Subscribe Us

अजमेर में 2 अकटुम्बर कोआयोजित होगी बेरोजगार महासभा जुटेंगे राजस्थान के बेरोजगार


जयपुर
बेरोज़गारो के लिये नई भर्तीयॉ निकालने की मॉग को लेकर एंव लम्बित भर्तीयो को पुरा करने की मॉग को लेकर और शिक्षा के निजीकरण (PPP मोड) को लेकर
अजमेर जिले मे 2 अक्टुबर को राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ बेरोज़गारो की महासभा का आयोजन करेगा और अजमेर बेरोज़गार महासभा से बेरोज़गार क्रान्ती की शुरुवात कि जायेगी और फिर बेरोज़गार अपनी की माँगो को मनवाने लिये आर पार की लडाई लडेगा
और 2 अक्टुबर को अजमेर बेरोज़गार महासभा मे अजमेर के सभी मंडलो के विस्तोरको की घोषणा की जायेगी ।और महासभा मे उपचुनाव मे बेरोज़गारो की तरफ चुनाव लडने का भी ऐलान किया जा सकता है
प्रेस कॉन्फ्रेंस


राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मॉग की है की शिक्षा विभाग मे 70 हजार से ज्यादा पद रिक्त पडे इसीलिये सरकार नई रीट शिक्षक भर्ती 40 हजार पदो पर निकाले और प्रथम श्रेणी ,द्वितीय श्रेणी, शिक्षक भर्ती एंव शारारिक शिक्षक भर्ती की विग्यप्ति सरकार जल्दी से जल्दी जारी करे और संस्कृत विभाग मे प्रथम श्रेणी, द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती की विग्यप्ति सरकार जल्दी से जल्दी जारी करे एंव राजस्थान पुलिस की भर्ती की विग्यप्ति और Ldc भर्ती की विग्यप्ति जल्दी से जल्दी जारी करे
और लम्बित भर्ती जैसे- , Ldc rpsc , पटवारी , ग्रामसेवक, विधालय सहायक, शिक्षक भर्ती 2012 पंजाबी , ldc 2013 rpsc , एंव अन्य भर्तीयो की नियुक्ती प्रकिया जल्दी से जल्दी पुरी करे
Bstc bed. मे इन्टरशिप के माध्यम से प्रशिक्षणार्थियो को शोषण बंद किया जाये और नियमो मे बदलाव कर प्रशिक्षणार्थियो को राहत दी जाये

और साथ मे उपेन यादव ने कहा की
*आने वाली पीढ़ियों के लिये अभिशाप है निजीकरण*

*शिक्षा के मंदिरों का निजीकरण है दुर्भाग्यपूर्ण*

जान दे देगें लेकिन शिक्षा का निजीकरण नही होने देगें और ना ही बेरोज़गारो के साथ अत्याचार होने देगें

बेरोजगार महासभा खबर
आजादी के समय देश का संविधान निर्माण करते समय नागरिकों को शिक्षा, चिकित्सा का मौलिक अधिकार प्रदान किया गया था

परंतु वर्तमान सरकारो ने नागरिकों के मौलिक अधिकारों का हनन करते हुये शिक्षा, चिकित्सा, परिवहन, पर्यटन, पशु चिकित्सा, विधुत वितरण जैसी  लोक कल्याणकारी सेवाओं को निजी हाथों में सौपकर फिर देश को अप्रत्यक्ष रूप से बहुराष्ट्रीय कंपनियों के एंव धनकुबेरो के हाथों में सौंपने का काम कर रही है।

जहाँ एक ओर निजीकरण से रोजगार के अवसर घटेंगे वही दूसरी ओर शिक्षित बेरोजगारो का शोषण होगा ।
बेरोजगार महासभा खबर
और अपने चहेतो को लाभ देने के लिये स्कुलो का निजीकरण किया जा रहा है

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ स्कुलो को PPP मोड पर देने का विरोध करता है

यादव ने कहा की यदि सरकार ने  बेरोज़गारो के लिये नई भर्तीयॉ निकालने की मॉगो को नही मानी और शिक्षा का निजीकरण एंव स्कूलों को PPP मोड पर देने को फैसले को नही बदला तो बेरोज़गार 2 अक्टुबर को अजमेर बेरोज़गार महासभा से बेरोज़गार क्रान्ती की शुरुवात करेगें
प्रेस कॉन्फ्रेंस लाइव
https://youtu.be/i35vcVPTlaA

Post a comment

0 Comments